विश्व सुनामी जागरूकता दिवस : 05 नवंबर

विश्व सुनामी जागरूकता दिवस : 05 नवंबर : वर्ष 2015 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा 5 नवंबर को विश्व सुनामी जागरूकता दिवस के रूप में चिन्हित किया गया | विश्व भर में लोगों के बीच सुनामी के आने वाले संकटो से बचने के लिए लोगों में सुनामी के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए विश्व सुनामी जागरूकता दिवस की शुरुआत की गई | पहला विश्व सुनामी दिवस पुरे विश्व में 05 नवंबर 2016 को मनाया गया | 

सुनामी एक वैश्विक समस्या हैं | यह अधिक से अधिक तटीय क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को प्रभावित कर सकती हैं | वर्ष 2004 में हिन्द महासागर में भूकम्प के कारण उत्तपन्न हुई सुनामी ने 15 देशों के लगभग 5 लाख लोगों को संकटो से प्रभावित किया था | विश्व सुनामी जागरूकता दिवस मनाने का लक्ष्य दुनिया भर में आपदाओं से प्रभावित लोगों की संख्या कम करने से हैं | 

सुनामी 

सुनामी समुन्द्र के किनारे उत्तपन्न एक बड़ी लहरें होती हैं | जो भूस्खलन या भूकंप से जुड़ी होती हैं | लोगों को कई अन्य प्राकृतिक आपदाओं की तरह सुनामी के आने के बारे में बताना कठिन हैं | लोगों के बीच सिर्फ यह जागरूकता उत्तपन्न की जा सकती हैं की भूकंप के क्षेत्रों में सुनामी का खतरा बहुत अधिक रहता हैं | 

सुनामी के लहरें अत्यंत खतरनाक एवं भयानक होती हैं | सुनामी के लहरें पानी की मजबूत दीवार के जैसे दिखने में लगती हैं | यह मजबूत दीवारें समुद्र में घंटो तक आक्रमण रूप में दिखती हैं | जो लाखों लोगों की जिंदगियों को नाश कर सकती हैं | सुनामी आने के निम्नलिखित कारण हैं जैसे – भूकंप , तटीय पत्थर टूटना ,ज्वालामुखी विस्फोट,पनडुब्बी भूस्खलन ,अलगवादी टकराव ये सब सुनामी आने के कारण हैं | 

सुनामी आने की पहचान कैसे करेंगे

सुनामी के प्राकृतिक आपदाओं को पहचनना अति आवश्यक हैं | जैसे भूकंप के कारण सुनामी पैदा हो सकती हैं | आपको को धरती पर झटकों का महसूस होते ही यह जान लेना चाहिए | सुनामी समुद्र के स्तर में तेजी से गिरावट के कारण भी सुनामी पैदा हो सकती हैं | यदि आप पानी में जबरदस्त हलचल देखते हैं और कम्पन्न महसूस करते है तो आपको यह तुरंत समझ लेना चाहिए की यह सुनामी के लक्षण है | सुनामी एक तेज आवाज की गति बनाती है | यदि आपको इनमें से कोई एक सुनामी के लक्षण दिखाई देते हैं | आपको वह स्थान तुरन्त छोड़ देना चाहिए | तुरंत कहीं सुरक्षित जगह चल जाना चाहिए | 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Close Menu