गुटखा और पान मसाला के उत्पादन और बिक्री पर पश्चिम बंगाल सरकार ने प्रतिबंध लगाया

गुटखा और पान मसाला के उत्पादन और बिक्री पर पश्चिम बंगाल सरकार ने प्रतिबंध लगाया : पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य में गुटखा और पान मसाला के उत्पादन और बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के घोषणा की | यह प्रतिबंध 07 नवम्बर से पश्चिम बंगाल में लागू होगा | यह प्रतिबंध 1 साल के लिए पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा लगाया गया हैं | बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने राज्य में गुटखा और पान मसाला आदि नशीली खाद्य चीजों पर प्रतिबंध लगाने के लिए एक सुचना जारी की | इससे से पहले पश्चिम बंगाल सरकार ने मई 2013 में एक साल के लिए प्रतिबंध लगाया था | 

पश्चिम सरकार के अनुसार गुटखा , पान मसाला एवं  सिगरेट व नशीली चीजों का सेवन करने से लोग काफी संख्या में कैंसर से पीड़ित हो रहे हैं | विश्व भर में लोग गुटखा और पान मसाला जैसे तम्बाकू का सेवन करने वाले 65% व्यक्ति भारत देश में रहते हैं |

इसके  सेवन से लोग 90% मुँह के कैंसर से पीड़ित हो जाते हैं | और इस गुटखा और पान मसाला और सिगरेट व नशीली चीजों का सेवन सिर्फ पुरुष ही नहीं महिलाएं भी कर रही हैं जो अत्यंत खतरनाक हैं यह कैंसर नामक गंभीर बिमारी से लोग अधिक – अधिक  लोगों की मृत्यु हो जाती हैं |

वैज्ञानिकों के अनुसार गुटखा और पान मसाला और सिगरेट व नशीली चीजों से यह साबित हो चुका हैं की तबाकू के सेवन से व्यक्ति के शरीर के अलग-अलग हिस्सों में जैसे मुँह का कैंसर ,गला,मस्तिष्क , किडनी का खराब होना आदि सभी कैंसर की चपेट में संभावना होती हैं |

पश्चिम सरकार के तम्बाकू के सेवन से लोग काफी मात्रा में लोग कैंसर नामक बीमारी से पीड़ित हो जाते हैं | बंगाल सरकार द्वारा गुटखा एवं  पान मसाला के उत्पादन और बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के बाद यह कार्रवाई ऐसे उत्पादों के प्रतिकूल प्रभावों को नियंत्रित करने में मदद करेगी | 

Current Affairs One Liner Quiz

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Close Menu